माता श्री चिंतपूर्णी जी में हवन करवाने के लिए अब श्रद्धालु ऑनलाईन कर सकेंगे बुकिंग

Others Religious Una
उपमुख्यमंत्री मुकेश अग्निहोत्री ने ऑनलाईन बुकिंग सुविधा का किया शुभारंभ
मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं को उपलब्ध करवाई जाएंगी सभी मूलभूत सुविधाएं
DNN ऊना, 13 जनवरी – उपमुख्यमंत्री मुकेश अग्निहोत्री ने उत्तर भारत के प्रसिद्ध धार्मिक स्थल माता श्री चिंतपूर्णी में श्रद्धालुओं को नव वर्ष में घर बैठे हवन करवाने के लिए ऑनलाईन बुकिंग की सुविधा प्रदान की, जिसके लिए उन्होंने वीरवार को माता श्री चिंतपूर्णी मंदिर में विधिवत रूप से शुभारंभ किया। इससे पूर्व उन्होंने मंदिर में माथा टेका और पूजा अर्चना भी की।
उपमुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के सभी मंदिर लोगांे की आस्था का प्रमुख केंद्र है। धार्मिकों स्थलों का विकास और विस्तार करके इन्हें पर्यटन की दृष्टि से समृद्ध बनाया जाएगा ताकि धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा मिल सके। उन्होंने कहा कि प्रदेश को देवभूमि के नाम से भी जाना जाता है यहां अनेकों देवी देवताओं का वास है। प्रदेश के समस्त ऐतिहासिक धार्मिकों स्थलों का पुनरूद्वार किया जाएगा। उन्होंने प्रदेश की जनता, स्थानीय जनता, पुजारी वर्ग और लोगों से आहवान किया के वे मंदिरों के विकास में अपना महत्वूपर्ण योगदान दें।
उन्होंने कहा कि माता श्री चिंतपूर्णी मंदिर प्रदेश के लोगों की आस्था का केंद्र है, हजारों की संख्या में श्रद्धालु अपनी श्रद्धा के साथ यहां आते हैं। उन्होंने कहा कि मंदिर स्थल पर श्रद्धालुओं को सभी प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध करवाने के प्रयास किए जा रह हैं। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि माईदास सदन से मंदिर तक जाने के लिए श्रद्धालुओं को बैठने के लिए बैंच, शैड, पीने के पानी की पर्याप्त व्यवस्था करने तथा शौचालय का तीव्र गति से निर्माण करवाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रसिद्ध शक्तिपीठ में दंडवत्त होकर आने वाले श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए अलग से रास्ता बनाने का भी प्रावधान किया जाएगा।
मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि मंदिरों के सरकारीकरण होने से मंदिरों की आय में काफी बढ़ौत्तरी हुई है। उन्होंने कहा कि इस धनराशि का उपयोग मंदिरों के विकास, मंदिरों के कल्याण और श्रद्धालुओं की सेवा में लगना चाहिए तथा पुजारी वर्ग को भी उनका हिस्सा मिलना चाहिए। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि बिना जनसहभागिता के किसी भी कार्य को पूरा करना असंभव होता है। उन्होंने कहा कि क्षेत्र विकास के लिए स्थानीय लोगों को विश्वास में लेकर आगे बढे़गें।
इस मौके पर मंदिर आयुक्त एवं उपायुक्त राघव शर्मा ने माता श्री चिंतपूर्णी में चल रहे विभिन्न विकासात्क कार्यों की विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने कहा कि मंदिर न्यास में आने वाले श्रद्धालुओं को सभी प्रकार की मूलभूत सुविधाएं प्रदान करने का प्रयास किया जा रहा है।
हवन करवाने के लिए ऑनलाईन बुकिंग आरंभ
उपायुक्त ने बताया कि हवन सामग्री मंदिर न्यास द्वारा पेमेंट आधार पर उपलब्ध करवाई जाएगी। मंदिर में हवन करवाने वाले पुजारियों के सम्पर्क नम्बर ऑनलाईन कर दिए गए हैं। माता श्री चिंतपूर्णी में हवन करवाने के श्रद्धालु ऑनलाईन वेबसाईट https://www.matashrichintpurni.com/hawan-booking/ के माध्यम से बुकिंग करवा सकते हैं। माता श्री चिंतपूर्णी में ऑनलाईन प्रसाद योजना और ऑनलाईन डोनेशन योजना संचालित की जा रही है।  इन योजनाओं के तहत श्रद्धालु ऑनलाईन प्रसाद की सुविधा प्राप्त कर सकते हैं। यदि कोई श्रद्धालु डोनेशन देना चाहता है तो वह ऑनलाईन डोनेशन कर सकता है, जोकि मंदिर की वेबसाईट पर उपलब्ध है।
सूक्ष्म व सप्तशती दो प्रकार के होंगे हवन
सूक्ष्म हवन करवाने के लिए 40 मिनट से 1 घंटे अवधि हेतू 500 रूपये पंजीकरण  तथा 1200 रूपये हवन सामग्री शुल्क और सप्तशती हवन करवाने के लिए 2 से 2Û30 घंटे की अवधि होगी जिसके लिए 1100 रूपये पंजीकरण और 5800 रूपये हवन सामग्री शुल्क होगा। हवन सामग्री मंदिर न्यास श्रद्धालुओं को पेमेंट आधार पर उपलब्ध करवाएगा। श्रद्धालुआंे की सुविधा के लिए हवन करवाने वाले पुजारियों के नाम और सम्पर्क नम्बर वेबसाईट पर उपलब्धर करवाए गए हैं, श्रद्धालु स्वयं हवन के लिए बुक कर सकते हैं।
हवन करवाने का समय
सूक्ष्म हवन करवाने का समय प्रातः 7 से 8 बजे, 11 से 12 बजे व सवा तीन से सवा चार तक होगा। जबकि सप्तशती हवन प्रातः 8 से 10Û40 और साढे़ 12 से तीन बजे तक तथा साढे़ चार से 7 बजे तक का समय रहेगा।
इस अवसर पर चिंतपूर्णी विधायक सुदर्शन सिंह बबलू, एडीसी डॉ अमित कुमार शर्मा, एसपी अर्जित सेन, कार्यकारी उपमंडलाधिकारी चिराग शर्मा, एसई पीडब्ल्यूडी जीएस राणा, एसई आईपीएच नरेश धीमान, मंदिर अधिकारी बलवंत पटियाल, प्रधान छपरोह नीलम वाला, प्रधान मोईन ऐशवर्य शर्मा, जिलाध्यक्ष रणजीत राणा, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष विनोद बिट्टू, पुजारी तिलक राज कालिया, संजीव कालिया, रमेश के अतिरिक्त अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।

News Archives

Latest News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *