गुणवत्ता युक्त शिक्षा तथा रोज़गारोन्मुखी पाठ्यक्रम बेहतर भविष्य के लिए आवश्यकः राम कुमार

Baddi + Doon Others Solan

DNN बद्दी

मुख्य संसदीय सचिव (उद्योग, राजस्व एवं नगर नियोजन) राम कुमार ने कहा कि बेहतर भविष्य के लिए गुणवत्ता युक्त शिक्षा तथा रोज़गारोन्मुखी पाठ्यक्रम आवश्यक हैं।
राम कुमार आज दून विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम पंचायत किशनपुरा के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला, चनाल माजरा व ग्राम पंचायत मानपुरा के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला, मानपुरा के वार्षिक पारितोषिक वितरण समारोह में उपस्थित छात्रों को सम्बोधित कर रहे थे।
मुख्य संसदीय सचिव ने वार्षिक पारितोषिक वितरण समारोह की बधाई देते हुए कहा कि प्रदेश सरकार युवाओं के कौशल को तकनीक के क्षेत्र में उन्नत करने के लिए तकनीकी शिक्षा में गुणवत्ता लाने तथा पाठ्यक्रम को रोज़गारोन्मुखी बनाने के लिए कृत संकल्प है। उन्होंने कहा कि गुणवत्ता युक्त शिक्षा युवाओं को बेहतर रोज़गार प्रदान करने में सक्षम हैं। उन्होंने विद्यार्थियों से आह्वान किया कि सफलता का कोई शॉर्टकट नहीं होता, कठिन परिश्रम से ही निर्धारित लक्ष्य को प्राप्त किया जा सकता है।
उन्होंने कहा कि अगले शैक्षणिक सत्र से राज्य सरकार सभी सरकारी स्कूलों में बड़ा परिवर्तन करने जा रही है। जिसके तहत सरकारी स्कूलों में पहली कक्षा से अंग्रेजी में पढ़ाई शुरु की जाएगी। विद्यार्थियों को स्मार्ट यूनिफार्म प्रदान की जाएगी तथा बेहतर प्रबंधन के लिए स्कूलों का कल्स्टर बनाया जाएगा, ताकि यहां पढ़ने वाले छात्रों का आत्मविश्वास बढ़े। उन्होंने कहा कि अध्यापकों की कमी को पूरा करने के लिए गेस्ट फेक्लटी लेक्चरों की भी भर्ती की जाएगी।
राम कुमार ने कहा कि मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू द्वारा श्रीनिवास रामानुजन डिजिटल स्टूडेंट योजना के तहत जिला सोलन के 26 मेधावी विद्यार्थियों को टैबलेट प्रदान किए गए तथा जल्दी ही सोलन जिला में कुल 641 मेधावी विद्यार्थियों को टेबलेट प्रदान किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि इस प्रकार की छात्रवृत्ति योजनाओं से मेधावी छात्रों में प्रतिस्पर्धा की भावना पैदा होती है।     मुख्य संसदीय सचिव ने कहा कि एक साल के कार्यकाल में तीन गारंटियों को राज्य सरकार ने पूरा कर दिया है तथा आने वाले समय में चरणबद्ध तरीके से अन्य गारंटियों को भी पूरा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि आर्थिक तंगहाली के बावजूद राज्य सरकार ने पहली गारंटी को पूरा करते हुए सरकारी कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन स्कीम को लागू किया, ताकि वह बुढ़ापे में अपना जीवन सम्मानपूर्वक तरीके से जी सकें।
उन्होंने कहा कि दून विधानसभा के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला मानपुरा और राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला, बद्दी को मुख्यमंत्री एक्सीलेंस स्कूल मॉडल के रूप में विकसित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि बद्दी औद्योगिक क्षेत्र होने के कारण यहां जनसंख्या अधिक है इसलिए बद्दी अस्पताल को 100 बिस्तर का करने तथा ट्रामा सेंटर खोलने का आश्वासन दिया। उन्होंने ग्राम पंचायत किशनपुरा के सामुदायिक भवन निर्माण के लिए पंचायती राज विभाग की ओर से 5 लाख रुपए देने की घोषणा की।
उन्होंने राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला चनाल माजरा की चार दिवारी तथा बास्केटबॉल कोट सीएसआर के माध्यम से बनाने की घोषणा की। उन्होंने  चनाल माजरा स्कूल में पारितोषिक वितरण समारोह के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाले छात्रों को अपनी ऐच्छिक निधि से 10 हजार रुपए देने की घोषणा की।
इस अवसर पर ग्राम पंचायत मानपुरा के प्रधान नावदेव धीमान, ग्राम पंचायत नंदपुर के प्रधान मस्त मुहम्मद, ग्राम पंचायत किशनपुरा के उप प्रधान अब्दुल गफ्फुर, बीडीसी सदस्य सुरेन्द्र सिंह, चनाल माजरा स्कूल के एसएमसी प्रधान गुरमेल चौधरी माजरा, एसएमसी प्रधान मानपुरा बिजेन्द्र सिंह, पुर्व प्रधान लोधी माजरा राम लाल बाघा, ग्राम पंचायत किशनपुरा के पूर्व प्रधान योगराज भाटिया, स्कूल के कार्यकारी प्रिंसीपल मनप्रीत कौर, मानपुरा स्कूल के प्राध्यापक अदित कंसल उपस्थित थे।

News Archives

Latest News